Uttarakhand

उत्तराखंड: कुमाऊं में अगले 36 घंटे जारी रहेगी भारी बारिश… सात जिलों में येलो अलर्ट

उत्तराखंड में बीते तीन दिन से मौसम खराब बना हुआ है। आज भी देहरादून, टिहरी, पौड़ी, हरिद्वार, चंपावत, नैनीताल, ऊधमसिंह नगर में अगले 24 घंटे में भारी से बहुत भारी बारिश के आसार बने हुए है। भारी बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में ज्यादातर इलाकों में तेज गर्जना के साथ कहीं-कहीं भारी से बहुत अधिक बारिश की संभावना है। साथ ही मौसम विज्ञानियों ने अगले 24 घंटे के भीतर मैदान से लेकर पहाड़ तक झमाझम बारिश की संभावना भी जताई है।

मौसम विभाग ने अगले 36 घंटे के दौरान वर्षा की संभावना बने रहने की संभावना जताई है। पिथौरागढ़ जिले में रात भर विभिन्न क्षेत्रों में बारिश हुई। सुबह से बादल छाए हैं। 18 सड़कें बंद हैं। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि दो अगस्त को नैनीताल, ऊधम सिंह नगर व चम्पावत जिलों के अधिकांश जगहों पर हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना जताई है। कहीं कहीं पर तीव्र बौछार के साथ भारी वर्षा भी हो सकती है। तीन अगस्त को समूचे कुमाऊं में अच्छी वर्षा होने का अनुमान है। चार अगस्त से वर्षा से राहत मिल सकती है। मामूली बरसात में कालाढूंगी रोड पर होने वाले जलभराव के विरोध में सोमवार को नेता प्रतिपक्ष व स्थानीय पार्षद रवि जोशी ने व्यापारियों के साथ धरना दिया। समर्थन देने पहुंचे विधायक सुमित हृदयेश ने घुटनों तक पानी में उतरकर विरोध जताया।

राज्य में बीते 24 घंटों में हुई भारी बारिश के बाद सड़कों पर मलबा और बोल्डर आने से एक नेशनल हाईवे समेत 274 सड़कें बंद हो गईं। इसके चलते पर्वतीय क्षेत्रों में जहां-तहां यात्री फंसे रहे। रविवार को 76 सड़कों को खोला जा सका। पहली बार सड़कों को खोलने के काम में तीन सौ से अधिक मशीनों को लगाया गया है। भारी बारिश के चलते श्रीनगर नेशनल हाईवे तोताघाटी में स्लिप और बोल्डर आने से बंद हो गया। लोनिवि की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार, प्रदेश में एक नेशनल हाईवे, 16 स्टेट हाईवे, 9 मुख्य जिला मार्ग, 5 अन्य जिला मार्ग, 88 ग्रामीण सड़कें और 155 पीएमजीएसवाई की सड़कें बंद हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button